कलेक्टर पर महिला डाक्टर का गंभीर आरोप ….. “पत्नी के इलाज के लिए डाक्टर पहुंची लेट…तो IAS ने कहा- पुलिस बुलाकर पिटायी करवाऊं क्या !… तबादले की भी दी धमकी”

रांची 21 अक्टूबर 2019। कलेक्टर राजीव रंजन पर महिला डाक्टर ने गंभीर आरोप लगाया है। महिला डाक्टर ने कलेक्टर बंगले में दुर्व्यवहार का आरोप IAS पर लगाया है। राजीव रंजन 2010 बैच के आईएएस अफसर हैं और मौजूदा वक्त में साहिबगंज जिले के कलेक्टर हैं। आईएएस राजीव पर सदर अस्पताल में तैनात महिला चिकित्सक डॉ. भारती पुष्पम ने आरोप लगाया है कि ना सिर्फ उसके साथ कलेक्टर बंगले में दुर्व्यवहार हुआ, बल्कि कलेक्टर ने उन्हें महिला पुलिस बुलाकर पिटायी करवाने और दूर दराज क्षेत्र में ट्रांसफर कराने की भी धमकी दी।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

महिला डाक्टर ने इस मामले में महिला आयोग, आईएमए के साथ-साथ चीफ सिकरेट्री से इस मामले की शिकायत दर्ज करायी है। महिला डाक्टर के मुताबिक सिविल सर्जन ने उन्हें कलेक्टर बंगले जाकर उनकी पत्नी के इलाज का निर्देश दिया था। सूचना के बाद महिला डाक्टर को थोड़ा विलंब कलेक्टर बंगले में पहुंचने में हो गया। जिसके बाद कलेक्टर बिफर पड़े। पहले तो महिला डाक्टर को बंगले में इंट्री ही नहीं दी गयी, काफी देर बाद जब महिला डाक्टर अंदर दाखिल हो पायी तो कलेक्टर ने उन्हें फटकार लगानी शुरू कर दी।

डॉक्टर भारती ने कहा- हमें देखते ही वे बिफर पड़े और देर से आने का कारण पूछा। मैंने सारी बात बताई। बावजूद उपायुक्त ने उन्हें गाली दी। कहा कि उन्हें किसी मरीज को नहीं दिखाना है। महिला पुलिस को बुलाकर पिटाई कराने की बात कही। यह भी कहा कि किसी सुदूर इलाके में स्थानांतरण कर देंगे।

हालांकि तमाम आरोपों को कलेक्टर राजीव रंजन ने खारिज किया है, उन्होंने कहा है कि वो देरी की वजह से नाराज जरूर हुए थे, लेकिन जितने भी आरोप उन पर लगाये गये हैं, वो सरासर गलत है, उन्होंने कोई भी अभद्रता या धमकी नहीं दी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.